Main Emraan Hashami Banna Chahta Hoon

Main Emraan Hashami Banna Chahta Hoon

दसवीं की क्लास में टीचर ने बच्चों से पूछा –
बताओ क्या बनोगे, क्या करियर सोचा है?
किसी ने कहा आईएएस तो किसी ने डॉक्टर।
किसी ने कहा आईपीएस तो किसी ने इंजीनियर।
तभी पीछे की सीट से एक लड़का बोला –
सर, मैं इमरान हाशमी बनना चाहता हूँ।

टीचर ने ख्वाब में भी ऐसे जवाब की नहीं की थी कल्पना।
पर टीचर को लगा शायद ये है बच्चे का बचपना।
टीचर ने समझाया, बेटा गलती कर रहे हो करियर चुनने में,
यह तो बताओ, क्या प्रॉब्लम है तुम्हे कुछ और बनने में।
बच्चे ने कहा –
सर जॉब में कहाँ है इतना पैसा?
और बिज़नेस करना लगता है मुझे बेवकूफों जैसा।
खिलाडी फंस जाते है मैच फिक्सिंग में।
नेता फंस जाते है स्टिंग ऑपरेशन में।
पर फिल्म इंडस्ट्री की लाइन हमेशा ऊपर जाती है।
अच्छे काम से प्राइस वैल्यू तो बुरे से पॉपुलरिटी बढ़ती है।
और इस बात को तो ख़ुद कई बड़े फ़िल्म समीक्षक माने है…
MMS Clips से भी ज्यादा बिकते इमरान के फिल्मो के गाने है…
मै भी ऐसे गाने कर अपनी लाइफ बदलना चाहता हूँ…
इसीलिए तो Sir मैं इमरान हाशमी बनाना चाहता हूँ…

आजकल के बच्चे ना जाने सीखते है किस किताब से?
टीचर का सिर चकरा गया बच्चे के जवाब से।
टीचर ने फिर पूछा –
बेटा तुम्हारे दिमाग में क्या बात समाई है?
अभिषेक बच्चन बनने में क्या बुराई है?
बच्चे ने कहा –
सर, अपनी पहली दो फिल्मो से इतना नाम नहीं कमाया अभिषेक के बाप ने।
और “मर्डर” वाले इस स्टार से कहते है सभी – “आशिक बनाया आपने”
मल्लिका,तनुश्री, उदिता निपटी पिछली फिल्मों की साइन मे…
सुनने मे आया है की अब सेलिना हृषिता भी है लाइन मे…
मै भी ऐसे टेस्टी CHOCOLATE का स्वाद चखना चाहता हूँ…
इसीलिए तो Sir मैं इमरान हाशमी बनना चाहता हूँ…

अब मास्टर का गुस्सा पहुच गया सातवे आसमान पे..
बोले, सिवाय लड़किया घुमाने के क्या किया इमरान ने?

Sir लड़कियों को पीछे घुमाना कोई आसान काम नही…
वरना बड़े Powerful लोगो का होता ये अंजाम नहीं…
क्या नही जानते आप America के पूर्व राष्ट्रपति को?
कैसे प्राप्त हुए मोनिका के चक्कर मे वीरगति को…
बदल गया कप्तान देश का सौरभ-नग्मा के टक्कर मे…
Cricket खेलना भूल गया वो नए खेल के चक्कर मे…
मेरी इतनी बातों का मतलब बिलकुल सीधा-साफ है…
काबिलियेत मे भी इमरान हाशमी, बिल क्लिंटन का बाप है…
मैं भी एक Demanded और काबिल आदमी बनना चाहता हूँ…
इसीलिए तो Sir मैं इमरान हाशमी बनना चाहता हूँ…

Aajkal Har Koi Ladko Ko Bura Batata Hai by Neha Rai

Kyon Unki Ankho Se Nikla Ansu Har Koi Dekh Nahi Pata Hai..
Aaj Kal To Har Koi Ladko Ko Hi Bura Batata Hai..

क्यों उनकी आँखों से निकला आंसू हर कोई देख नहीं पाता है..
आज कल तो हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

वो करते है प्यार हमसे खुद से भी ज्यादा..
फिर क्यों उनके प्यार का हिसाब हर बार लगाया जाता है..
आज कल तो हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

अपने लिए कभी भी नहीं करते कोई फरमाइश ये..
हर बार परिवार की खुशियों में ही इन्हे भी खुश पाया जाता है..
फिर भी ना जाने क्यों हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

माना नजरें ख़राब होती है कुछ लड़को की बेशक..
मगर उनकी गलतियों का इलज़ाम हर किसी पर क्यों लगाया जाता है..
आज कल तो हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

दिल के टूट जाने पर भी ये नहीं कहते बेवफा उसे..
लेकिन धोकेबाजी का ताज इनके सर पे ही सजाया जाता है..
ना जाने क्यों आज कल हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

पैसे ना होने पर या कम होने पर भी ये करते है सबकी जरूरतें पूरी..
फिर इनके सपने पुरे करने के वक़्त अपनी उधारियों का बोझ क्यों गिनवाया जाता है..
और ये सब अनदेखा करके भी आज कल तो हर कोई लड़को को ही बुरा बताता है..

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी