Ek Ladki Hoon Main Poetry by Abhash Jha

Ek ladki Hoon Main, Koi Cheej Nahin.
Apni Batoon Ko apne Paas hi Rakhna,
I am A Girl, Koi Piece Nahin.

एक लड़की हूँ मैं, इंसान हूँ, कोई चीज नहीं.
अपनी बातों को अपने पास ही रखना,
I am a Girl, कोई Piece नहीं.
मेरे कपड़ो के पहनने के ढंग पे सवाल उठाते हो तुम,
मेरी मर्जी पे अपना हक़ जताने वाले, कौन होते हो तुम?
हर मेरी बात को, हर मेरे काम को, गलत क्यों बताया जाता है?
गुनाह कोई और करे पर कुसूरवार मुझे ठहराया जाता है.
मेरे कोई काम करने से पहले, क्यों लोग बीच में आते है?
लोग क्या कहेंगे, लोग क्या कहेंगे, लोग ही लोगों से डराते है.

अँधेरा होने के बाद घर से बाहर मत निकलना,
लोग गलत समझेंगे.
दुपट्टा जरा भी सरक ना जाये, लोग क्या कहेंगे.
कल तुम किस लड़के के साथ थी? “पडोसी ने कहा
लड़की हो तुम, अपनी Limitations पता है ना.
वाह! सोसाइटी की मर्जी से मेरी लाइफ के Rules सेट होंगे.
जैसे वो मुझे चलाना चाहेंगे, वैसे ही मुझे चलना पड़ेगा.
नहीं तो लोग क्या कहेंगे?
लोग क्या कहेंगे, उस Reason से मैं कहना बंद कर दूँ.
आवाज उठा दूँ जरा सी तोमैं बद्तमीज हो गयी हूँ
मेरे साथ कुछ भी गलत होगा, उसकी ज़िम्मेदार सिर्फ मैं ही हूँ.
मेरा ही कोई चक्कर रहा होगा, तभी तो आज इस हालत मैं हूँ.

अपनी बातों से सताती है ये सोसाइटी मुझे,
पर कोई भी खुद पे Guilty नहीं.
कब समझेगी ये दुनिया की अकेली लड़की,
Responsibility होती है Opportunity नहीं.
अब और क्या बताऊँ आपको,
मैं बस स्टॉप पे बस का इंतज़ार करती हूँ,
तो बहुत ही ज्यादा बुरे तरीके से मुझे घूरा जाता है.
बस में भीड़ होती है, मानती हूँ,
पर क्यों इंटेंशनली मुझे बार बार छुआ जाता है.

एक लड़के के साथ लड़कियों का ग्रुप हो,
तो वो Cool Stud  कहलाता है.
पर लड़को के साथ में अगर एक लड़की Present हो,
तो क्यों उसे Slut का Tag दिया जाता है.
मेरे कपड़ो पे लोगों की नजर रहती है,
अपनी नजर पे नजर नहीं.
ये अंकल, ये आंटी, मुझे बेशर्म कहते है,
शायद अपनी सोच की इनको खबर नहीं.

मुझे कमजोर समझने की भूल मत करना,
जो शायद तुम समझते हो.
मैं छोड़ने वालों में से नहीं हूँ, इसीलिए अपने आप में रहो.
मेरी लाइफ है, मेरी मर्जी, सोसाइटी के तरीके से, मैं चलूंगी नहीं.
अच्छा लगेगा जब कोई मुझे प्यार से देखे,
ऐसे देखे कि मैं अपने बाल Adjust करूँ, अपना Top नहीं.

 
 

A Short Friendship Love Poem by Abhash Jha

Accha Lagta Tha Jab Tu Hii Karti Thi.
Jane Se Pehle Bye Karti Thi.
Koi Topic Naa Bhi Ho Par Baat Karne ki Try Karti Thi.

अच्छा लगता था जब तू Hii करती थी,
रोज जाने से पहले Bye करती थी,
कोई टॉपिक ना भी हो मगर,
बात करने की Try करती थी.

मुझे देखकर स्माइल करती थी,
आंखे तेरी शाइन करती थी,
कभी नहीं भूल पाउँगा मैं,
जो मेरे साथ तू स्पेंड टाइम करती थी.

जब चश्मे तो हटाया करती थी,
आँखों को मिलाया करती थी,
मैं थोड़ा पीछे होया करता तो,
अपने पास बुलाया करती थी.

जब मेरे गाने तू सुना करती थी,
अक्सर उनमे खो सा जाया करती थी,
मेरा हाल सुनकर तू,
कुछ अपना हाल बताया करती थी.

रोज एक ही जगह मैं बैठा करता था,
तू डेली मुझे वही पाया करती थी,
बहुत याद आते है वो दिन,
जब अपनी दोस्ती तू मुझपर बरसाया करती थी.

 

Woh Pyaar Hi Kya Jo One-Sided Na Ho by Abhash Jha

Wo Pyar hi Kya Jo One Sided Na Ho, Tumhara Dil Uske Liye Excited Naa Ho.
Wo Single Hai Too Thik  Hai, Warna Pyar Karne ka Maza Hi kya Agar Wo Committed Na Ho.

वो प्यार ही क्या जो one sided ना हो..
तुम्हारा दिल उसके लिए excited ना हो..
वो सिंगल है तो ठीक है वरना प्यार करने का,
मज़ा ही क्या अगर वो committed ना हो..

उसकी सारी pick save करते हो ना..
अंदर ही अंदर उसकी बहुत तारीफ करते हो ना..
तुम्हें शायद पता हैउससे वापस प्यार तुम्हें नहीं मिलने वाला है
फिर भी मोहब्बत करते हो ना..
वह सामने से देखा तो नजरें झुका लेते हो..
वो ignore तो आंखें मिलाने की कोशिश करते हो..
तुम्हारे message का वो वापस reply करें ना करें..
मगर उसका last seen हमेशा चेक करते हो ना..

उसके आंसू किसी और के कंधे पर गिरते हैं..
और कॉलर तुम्हारी भारी हो जाती है..
वो हाथ किसी और का पकड़ती है..
और अंगुलियां तुम्हारी पिघल जाती है..
वह अपना WhatsApp स्टेटस किसी और को dedicate करती है,
और excitement तुम्हारी बढ़ जाती है..
उसके ख्वाब में कोई और ही आता है,
और नींदे तुम्हारी उड़ जाती है..

जब वो मायूस हो तो रोना तुम्हे आता है ना..
उसके गम की वजह को तुम्हारा दिल जानना चाहता है ना..
यह एकतरफा प्यार ही हैजिसमें पूरी शिद्दत होती है..
ना सबको नसीब नहीं होता ये एहसास,
मिलता उसी को है जिसकी अच्छी किस्मत होती है..

तुम्हारी रूह तुम्हारा दिल अपनी तरफ से,
पूरी तरह उससे connected होता है..
ये one sided love है ना जो,
सबसे ज्यादा effected होता है..


 

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी