Best Friend Poetry by Tavneet Singh

Best Friends Poetry, Best Friend Poem, Friendzone

आखिर तुम क्यों दिल के इतने पास हो,
कोई तो वजह जरूर है जो तुम इतने खास हो..
मेरे दोस्तों में सबसे पहले तुम्हारा ही नाम आता है,
रब की कसम हमारा पिछले कई जन्मो से नाता है..

6th क्लास में रब में मुझे तुझसे मिलाया था,
और उस मुलाकात में ही मैंने तुम्हें मेरी जिंदगी का हिस्सा बनाया था..
वो वक़्त मैं कैसे भूल जाऊं जो मैंने तेरे साथ बिताया था..
क्यूंकि तुम्हारी हर एक आदत ने मुझे दीवाना जो बनाया था..

उस वक़्त कुछ दोस्त तुम्हारे पास मुझसे ख़ास थे,
लेकिन तुम तो मेरे दिल के तब भी बहुत पास थे..
9876543210, यही वो नंबर है जो मैं अक्सर मिलाया करता था,
जब भी तुम्हारी पक पक सुनने को मेरा दिल तरसता था..
ज्यादातर तेरे ही बारे में सोचा करता था,
यहां तक की हैंडराइटिंग भी तेरी ही कॉपी किया करता था..

लिखावट तेरी बेमिशाल थी, और ड्राइंग भी कमाल थी..
तूने भी अपनी दोस्ती तब खूब निभाई,
जब मेरे हिस्से की ड्राइंग भी तूने थी बनाई..
टीचर भी देखकर समझ लिया करता था,
और मेरी जगह तेरी ही तारीफ किया करता था..

तेरे बिना मेरा वक़्त कहाँ कटता था,
शायद इसलिए जब कोई तुझसे बात करे,
तो मेरा दिल अंदर ही अंदर जलता था..
सच कहूँ तो तू मेरे लिए एक अनजान पहेली थी,
जिसमे उलझने का दिल हमेशा करता था..
आखिर उस अनजान पहेली ने कुछ ऐसा उलझाया,
कि उलझते हुए भी वो सुलझने लगी
जो पहेली मेरे दिल के पास थी,
वो अब मेरी जिंदगी बनने लगी थी..

अब तक जिंदगी में मैंने कई अच्छे दोस्तों का साथ पाया है,
और मैंने सबको तेरी बाते बता बता के पकाया है..
उन सबको लगता है कि तू मेरे लिए बहुत ख़ास है,
और तू ही सबसे जयादा मेरे दिल के पास है..
लेकिन हकीकत तो ये है कि ये सब दोस्त मेरे दिल के पास है,
और तेरे लिए बहुत खास है,
क्यूंकि ये तो केवल रब ही जनता है कि,
किसका दिल किसके पास है?

कहीं कहीं मैं आज भी तुझपे मरता हूँ,
और कही तुझे मुझसे अच्छा कोई और ना मिल जाये,
इस बात से मन ही मन में डरता हूँ..
इसी डर से रब से यही दुआ करता हूँ,
कि हे! रब मुझपे एक एहसान जरूर करना,
इस दोस्त को मुझसे कभी भी जुदा ना करना..

Nek Ne Nek Aur Bure Ne Bura Jaana Mujhe

Nek Ne Nek Aur Bure Ne Bura Jaana Mujhe
Jiski Jitni Fitrat Thi, Usne Utna Pehchana Mujhe

नेक ने नेक और बुरे ने बुरा जाना मुझे,
जिसकी जितनी फितरत थी, उसने उतना पहचाना मुझे..
फ़र्क़ ना पड़ता अगर वो बुरा ही जानते मुझे,
सह हम ये ना पाए कि नेक कहने के बाद बुरा उन्होंने माना मुझे..

बदलता तो मौसम था पर बदल वो इंसान गए,
जिसकी जैसी फितरत थी, वो वैसा मुझे पहचान गए,
काश बदलते मौसम के साथ मैं भी बदल जाता,
नेक को बुरा और बुरे को नेक कह पाता..

यूँ तो कहने से कुछ नहीं बदलता,
वरना मैं सब से पहले खुद को बदलता..
मौसम तो आज भी बदल रहा है,
पर ये मासूम दिल आज भी उन्हें नेक समझ रहा है..
मैं इस बेवक़ूफ़ दिल को कैसे समझाऊं,
कि वो नेक को बुरा और बुरे को नेक मान चुके है,
उनकी जैसी फितरत थी, वो वैसा पहचान चुके है..

ये पहचान तो मैं बदल नहीं पाउँगा,
पर एक दिन उन्हें जरूर भुला जाऊंगा..
याद तो तब भी उन्हें मैं किया करूँगा,
पर फ़र्क़ सिर्फ इतना होगा कि उनको बुरा वक़्त समझ लिया करूँगा..
और खुदा अब मुझे सिर्फ उसी से मिलाना,
जो नेक को नेक और बुरे को बुरा जाने,
तब तक भले ही मुझे कोई ना पहचाने..

Teri Meri Dosti Me Na Ladki Aayegi Na Paisa Aayega by Amit Auumkaar

Teri Meri Dosti Me Na Ladki Aayegi Na Paisa Aayega
Abe Dost Nahi Hai Apan, Bro Hai Apan, Apan Aise Ich Rahege..

मेरी ये Poem सभी Bro वाले दोस्तों और Bro वाली दोस्ती के नाम,
कि ये दुनिया, ये दस्तूर, ये वक़्त, सब बदल जाएगा..
अबे दोस्त नहीं है, Bro है अपन, अपन ऐसे इच रहेंगे..
तेरी मेरी दोस्ती में ना लड़की आएगी ना पैसा आएगा..
कि एक दिन आएगा तेरी मेरी दोस्ती का चैप्टर किताबों में पढ़ाया जायेगा..
अबे Bro है अपन तब भी ऐसे इच रहेंगे..
तेरी मेरी दोस्ती में ना लड़की आएगी ना पैसा आएगा..

अबे ये प्यार व्यार का भूत चार दिन में उतर जायेगा..
पैसा आज है तो कल खर्च हो जायेगा..
पर Timeless है तो अपनी यारी, अपन ऐसे इच रहेंगे,
तेरे मेरे बीच में ये प्यार पैसा ये कुछ नहीं आएगा..
अपनी दोस्ती का तराना ये जमाना गुनगुनाएगा..
एक दिन अपनी यारी का फ़साना बच्चे बच्चे की जाबां पर आएगा..
तब भी ऐसे इच रहेंगे अपन, अबे Bro है अपन..
तेरी मेरी दोस्ती में ना लड़की आएगी ना पैसा आएगा..

कोई कितनी भी कोशिश कर ले कोई तेरी मेरी दोस्ती नहीं तोड़ पायेगा..
जब भी तुझे जरूरत होगी तो भाई हीरो की तरह एंट्री लेकर आएगा..
लेकिन Bro है अपन, ऐसे इच रहेंगे,
तेरी मेरी दोस्ती में ना लड़की आएगी ना पैसा आएगा..
कि ये दुनिया, ये दस्तूर, ये वक़्त, सब बदल जाएगा..
अबे Bro है अपन..
तेरी मेरी दोस्ती में ना लड़की आएगी ना पैसा आएगा..

~Amit Auumkaar

Sabka Kata Hai Tera Bhi Katega by Amit Auumkar

Dosti ka yhin Badal Niklega Jab Ishq Ka Badal Chatega
Baki Tu Likh Ke Lele Bhai, Sabka Kata Hai Tera Bhi Katega

तो ये जो कविता है वो बॉर्डर फिल्म के मथुरादास टाइप के करैक्टर के लिए यानि कि उन धोखेबाज़ दोस्तों के लिए, जिनको जब गर्लफ्रेंड मिल जाती है तो वो अपने दोस्तों को यानि कि भाइयों को भूल जाते है.. अबे मथुरादास तुझे बंदी मिल गयी तो भाइयों को भूल गया तू, हमारा फ़ोन नहीं उठाता तू..लेकिन बेटा ये याद रखना..

दोस्ती का यहीं बादल निकलेगा जब इश्क़ का बादल छटेगा,
बाकि तू लिख के लेले भाई, सबका कटा है तेरा भी कटेगा..

भाई की गाडी लेके उसके साथ डेट पे जाता है तू,
हमारे साथ फ्रेंडशिप डे नहीं मनाया कभी,
लेकिन उसके साथ वैलेंटाइन डे मनाता है तू..
लेकिन फिर भी बड़ा दिल है हमारा भाई है तेरे,
अबे हम ही सीलेंगे इश्क़ में तेरा जो भी फटेगा..
बाकि तू लिख के लेले भाई इसका उसका मेरा,
अबे सबका कटा है भाई तेरा भी कटेगा..

भाई देख तू गलती करेगा तो हम ही समझायेंगे..
साले चाहे तुझे कितनी भी गली देले,
जरुरत में हम ही तेरे काम आएंगे..
मानले जब तू कटवा के आएगा तो यहाँ जश्न होगा,
और तेरा जितना भी गम है वो सभी भाइयों में बटेंगा..
अबे ये प्यार व्यार चार दिन के खेल है..
इनके चक्कर में उम्र भर की दोस्ती को भूल गया तू..
तो आज से गद्दारो की लिस्ट में तेरा नाम है,
और यकीन मान ये नाम इस लिस्ट से इतनी आसानी से नहीं मिटेगा..
बाकि तू लिख के लेले भाई, सबका कटा है तेरा भी कटेगा..

~Amit Auumkaar

Wo Tumhare Friendzone Mein Hai by Amit Auumkar

Agar Tumhe Lagta Hai ki Acche Ladke Kahan Hai?
Toh Wo Tumhare Friendzone me Hain.

To All the Lovely Ladies out there
जो बस सच्चे प्यार की तलाश में रहती है.
और हर बार किसी गलत लड़के के चक्कर में पड़ जाती है,
और अब शायद ये सोचने लगी है कि अच्छे लड़के होते ही नहीं है.
“The Good Guy is a Myth”
तो अगर तुम्हे लगता है कि अच्छे लड़के कहाँ है?
तो तुम्हारी जानकारी के लिए बता दूँ,
With all the Love and Respect Ladies
वो तुम्हारे Friendzone में है.
अगर तुम्हे लगता है कि अच्छे लड़के कहाँ है?
वो तुम्हारे Friendzone में है.

You Know, अगर Monday Morning को भी जल्दी उठकर,
कोई लड़का सिर्फ इस बात के लिए Excited है कि,
वो आज फिर तुम्हे घर से ऑफिस Drop करेगा.
और तुम्हारे साथ मिलने वाले इतने से टाइम की वजह से वो खुश है,
वो थोड़ा सा भोला है, थोड़ा सा बुद्धू है,
But Trust Me, वो एक अच्छा लड़का है.
He is a good Guy
पर दुःख इस बात का है कि,
वो तुम्हारे Friendzone में है.

अगर अपने काम को पूरी शिद्दत और ईमानदारी से करने वाला वो लड़का,
ऑफिस से एक दिन की छुट्टी सिर्फ इस बात के लिए ले लेता है कि,
वो तुम्हारे Birthday के लिए कोई अच्छा सा गिफ्ट ढूंढ सके,
तो वो थोड़ा सा बेवकूफ है, थोड़ा सा पागल है,
But Trust Me, He is a good Guy
वो एक अच्छा लड़का है.
और अगर तुम्हे लगता है कि अच्छे लड़के कहाँ है?
तो तुम्हारी जानकारी के लिए बता दूँ Madam,
वो तुम्हारे Friendzone में है.

You Know, जब तुम अपने काम और अपनी Personal life के stress को दूर करने के लिए,
अपने दोस्तों के साथ लेट नाईट पार्टी करती हो,
तो कोई एक लड़का है जो अपनी रातों की नींदें काटकर,
तुम्हारे एक Msg का इंतज़ार करता है कि तुम घर पहुंची या नहीं.
और अगर आधी रात को ३ बजे, I have reached home Safely.
तुम्हारी तरफ से इतना सा Msg पाकर वो लड़का खुश है,
तो वो थोड़ा सा बुद्धू है, थोड़ा सा ज्यादा Hopeful है,
But Trust Me, वो एक अच्छा लड़का है.
He is a good Guy
पर दुःख इस बात का है कि,
वो तुम्हारे Friendzone में है.

जब वैलेंटाइन डे आता है और प्यार के इस मौसम में,
तुम्हे किसी Cool Dude से इश्क़ हो जाता है, जोकि बहुत नेचुरल है.
तो तुमसे कई सालो से इश्क़ करता हुआ वो लड़का,
अपने दिल को पत्थर कर लेता है और तुमको Advise देता है,
“सुनो, तुम वो उसके साथ डेट पर जाओगी ना,
तो वो Black Dress पहन कर जाना.
You look so Pretty in It.
तुम ये Red lipistic मत लगाना, It doesn’t suit you.
सुनो तुम्हारी स्माइल बहुत अच्छी है.
उससे मिलोगी ना तो एक बार स्माइल कर देना बस,
देखते ही फ्लैट हो जायेगा.
अगर तुमसे बेइंतहा इश्क़ करने के बावजूद वो लड़का,
सिर्फ तुम्हारी ख़ुशी के लिए पत्थर हो जाता है.
तो वो भले ही थोड़ा सा फ़िल्मी है, थोड़ा सा स्लो है.
लेकिन वो एक अच्छा लड़का है.
Trust Me, He is the good Guy
पर दुःख इस बात का है बस कि वो आज भी बस,
वो तुम्हारे Friendzone में है.

आज बहुत Pretty लगती हो तुम.
You look so Pretty, You look so beautiful.
तुम्हारे होंगे Instagram पे लाखो Followers,
और फेसबुक पे हज़ारों Fans.
लेकिन आज अगर तुम्हे लगने लगा है कि
आजकल के लड़के सिर्फ looks पर मरते है.
तो तुम्हे याद दिला दूँ कि जब स्कूल में तुम झल्ली लगती थी ना,
तब से लेकर आज तक तुम्हारा कोई दोस्त है.
जो सिर्फ तुम्हारे चेहरे पर एक मुस्कान लाने के लिए तरसता है.
सिर्फ तुम्हे स्माइल कराने के लिए अगर वो लड़का,
खुद को जोकर और अपनी जिंदगी को सर्कस बना लेता है ना,
तो वो थोड़ा सा Innocent है, थोड़ा सा बेवकूफ है,
But Trust Me, He is the good Guy
वो एक अच्छा लड़का है.
पर दुःख इस बात का है बस कि वो आज भी बस,
वो तुम्हारे Friendzone में है.

तुम अपने उस दोस्त को फ्रेंडज़ोने में ही रहने दो.
उससे जबरदस्ती इश्क़ लड़ाना, ऐसा नहीं कहता मैं,
और अगली बार जब उस दोस्त से मिलोगी ना,
तो उस Friendzone वाले दोस्त को एक बार,
“कसके गले लगाना” ये जरूर कहता हूँ मैं.
और बाकि कुछ करने की जरुरत है नहीं,
क्योंकि उनके लिए तो उतना ही काफी है.

 
 

Chal Aaj Ek Nayi Shuruwat karte hai by Sri Ratnesh

Chal Aaj Ek Nayi Shuruwat karte hai.
Tu Mujhe Bhul Ja Aur Main Tujhe Bhul  Jata hun.
Aur Fir se Sabkuch Bhul ke,
Ek Ajnabi Ki Tarah Mulakaat Karte hai.

चल आज एक नई शुरुआत करते है..
तू मुझे भूल जा और मैं तुझे भूल जाता हूँ,
और फिर से सबकुछ भूल के,
एक अजनबी की तरह मुलाकात करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

फेसबुक पे Friend Suggestion वाली list में तेरा नाम देखते ही,
तुझे फिर से friend Request सेंड करते है..
और गलती से तू उसे Accept भी कर लेती है,
“Hey, is anyone there?” वाला msg तुझे फिर से send करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

आज फिर से तुझे छोटे मोटे जोक्स से हँसाने की कोशिश करते है,
और तू भी ऐंवे ही उन जोक्स पर हंसने की कोशिश करती है..
इसी बीच बातों ही बातों में तुझे फिर से Coffee पर Invite करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

आज फिर से तुझसे उसी जगह पर मिलते है,
20-25 मिनट तक दोनों कुछ नहीं बोलते है..
और फिर दोनों एक साथ बोलना स्टार्ट करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

चल आज फिर से अपने अपने Secrets एक दूसरे से share करते है..
और उन Secrets को Secrets ही रखने की कसमें एक दूसरे को देते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

आज फिर से तुझसे दिनभर बात करते है..
और रात को दोदो तीनतीन बजे तक,
सिर्फ और सिर्फ तेरे ही msg का इन्तजार करते है..
उसके बाद भी मन नहीं भरता है और
सिर्फ बैटरी डाउन हो जाने के डर से,
अपने Net को बार बार off करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

आज फिर से एक दूसरे से मिलने के लिए,
दोनों अपनी अपनी क्लास बंक करते है..
सारी दुनिया को भूलकर बस स्टैंड पे बैठकर,
एक दूसरे से घंटो घंटो बात करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

तेरी एक छोटी सी smile के लिए आज फिर से,
वो सब करते है जो तुझे पसंद था..
तेरे साथ बिताये हर एक उस लम्हे को,
पहले की ही तरह फिर से जीने की कोशिश करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

चल आज फिर से उसी मौसम की बारिश में तेरे साथ भीगते है..
और मीलो मीलो तेरे साथ उन्हीं रास्तों पे फिर से चलते है..
सारी तो नहीं लेकिन कुछ यादें तो जरूर ताजा करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

काश ये सब दोबारा हो सके और तू मुझे फिर से मिल सके..
इसलिए आज भी उसी जगह बैठकर तेरा रोज इन्तजार करते है..
चल आज एक नई शुरुआत करते है..

 

Wo Ladki Tum hi to ho by Ratnesh Srivastav

Wo Ladki Tum hi to ho by Ratnesh Srivastav

वो लड़का जिसे प्यार का मतलब तक नहीं पता था..
बेइंतहा प्यार कैसे किया जाता हैउसे ये सिखाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो कभी अपनी गलती नहीं मानता था..
उसे उसकी गलती का एहसास कराकर सही रास्ता दिखाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो अपनी बात मनवाने के लिए हमेशा जिद करता था..
उसे एक बार में सारी बात मनवाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो अपना खुद का बर्थडे भूल जाया करता था..
उसे एक एक तारीख याद दिलाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जिसे Sorry तक सही से बोलना नहीं आता था..
लड़कियों को कैसे मनाया जाता हैउसे ये सिखाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जिसे सबकुछ बताने के बाद भी कुछ समझ नहीं आता था..
उसे सिर्फ एक इशारे में सबकुछ समझाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो अलार्म बजने के बाद भी कभी नहीं उठता था..
उसे Exam Time में सिर्फ एक msg कर के जगाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो भीड़ में लड़की के साथ चलने से भी डरता था..
बीच सड़क पर लड़की को Propose कैसे किया जाता है
उसे यह सिखाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

वो लड़का जो सिर्फ Doremon और Shinchan देखा करता था..
उसे Romantic Movies की लत लगाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

तुम ये किसी शर्ट पहनते हो?
तुम ये वाली Try करो, तुम पर बहुत अच्छी लगेगी..
यह कहकर मुझे Dressing Sense सिखाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

तुम इतनी जल्दी जल्दी क्यों खाते हो?
थोड़ा आराम से खाया करो..
यह कहकर मुझे एक एक चीज सिखाने वाली,
और मुझे जानवर से इंसान बनाने वाली,
वो लड़की तुम ही तो हो..

चाहे वो कल मेरी जिंदगी में रहे या ना रहे,
मर मरते दम तक जिसके लिए इस दिल में हमेशा इज्जत रहेगी,
वो लड़की तुम ही तो हो..

Wo School wala Pyar by Ratnesh Srivastav – Friendship love Poetry

Kitna Haseen Hota Tha Na Yaar Wo School Wala Pyaar.

वो स्कूल वाला प्यार कितना अलग होता था ना यार..
स्कूल पहुंचते है निगाहें बस उसी को खोजती थी,
उसके ना मिलने पर ये बार बार इधर उधर देखती थी..
और उसके आते है चेहरे पे एक अलग सी रौनक होती थी ना यार,
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

वो उसका मासूम सा चेहरा और लम्बे लम्बे बाल,
उसपर उसकी वो शर्माती हुई आँख..
और उन आँखों में डूब जाने का भी,
एक अलग ही नशा होता था ना यार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

“मेरी वाली है” कहके किसी से भी भिड़ जाते थे,
और उसे देखते ही एकदम सीधे बन जाते थे..
और बिना किसी Expectation के कर देते थे ना उसके सारे काम,
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

वो स्कूल का टाइम जो शुरू होते ही खत्म हो जाता था, कितना कम लगता था?
और उससे एक दिन की जुदाई से भी कितना डर लगता था?
और कितना लम्बा लगता था ना वो छुट्टी वाला रविवार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

वो पागल कर जाती थी हमें एक बार देख कर,
और हम कुछ नहीं कर पाते थे उसे बार बार देख कर..
पर उस आँख मिचोली में भी एक अलग सा सुकून होता था ना यार,
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

उसकी Attention पाने को ना जाने क्या क्या करते थे..
और दोस्तों की बताई हुई हर एक Trick Apply करते थे..
और एक बार भी अगर वो हमें हंसकर देख लेती थी,
तो हमारा तो दिन बन जाता था ना यार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

टीचर के पढ़ाते समय भी बस उसी को देखते थे..
और तो और किताबो के हर पन्नो में भी बस उसी को खोजते थे..
उस के सिवा कहीं और मन ही नहीं लगता था ना यार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

आज उसे बोल दूंगाये सोचकर हर रोज घर से निकलते थे..
और उसे देखते ही सारी हिम्मत पता नहीं कहाँ चली जाती थी..
और बची कुची कसर उसे कभी अकेला ना छोड़ने वाली,
उसकी सहेलिया पूरी कर जाती थी..
पर इन सब में भी एक अलग सा मजा होता था ना यार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

देखते ही देखते वो स्कूल का last दिन जाता है..
और हमारा Secret love हमारे दिल में ही रह जाता है..
पर इन सब यादों को याद करके आज भी चेहरे पर,
एक छोटी सी Smile जाती है ना यार..
कितना हसीन होता था ना वो स्कूल वाला प्यार..

A Short Friendship Love Poem by Abhash Jha

Accha Lagta Tha Jab Tu Hii Karti Thi.
Jane Se Pehle Bye Karti Thi.
Koi Topic Naa Bhi Ho Par Baat Karne ki Try Karti Thi.

अच्छा लगता था जब तू Hii करती थी,
रोज जाने से पहले Bye करती थी,
कोई टॉपिक ना भी हो मगर,
बात करने की Try करती थी.

मुझे देखकर स्माइल करती थी,
आंखे तेरी शाइन करती थी,
कभी नहीं भूल पाउँगा मैं,
जो मेरे साथ तू स्पेंड टाइम करती थी.

जब चश्मे तो हटाया करती थी,
आँखों को मिलाया करती थी,
मैं थोड़ा पीछे होया करता तो,
अपने पास बुलाया करती थी.

जब मेरे गाने तू सुना करती थी,
अक्सर उनमे खो सा जाया करती थी,
मेरा हाल सुनकर तू,
कुछ अपना हाल बताया करती थी.

रोज एक ही जगह मैं बैठा करता था,
तू डेली मुझे वही पाया करती थी,
बहुत याद आते है वो दिन,
जब अपनी दोस्ती तू मुझपर बरसाया करती थी.

 

Tumhe kabhi Us Angle se Nahi Dekha by Vihaan Goyal

Jab Tak Chaha Dil Se Khela, Fir Khali Riffle Ki  Tarah Fenka.
Ab Kehti Hai, You Are My Friend..
Tumhe Kabhi Us Angle Se Nahin  Dekha.

जब तक चाहा दिल से खेला,
फिर खाली Riffle की तरह फेंका..
अब कहती है, “You are Friend”
तुम्हें उस Angle से नहीं देखा..

ये कहकर आयी पास मेरे, “You are Special, You Know?
चिपक के बैठी बाइक पे, Mc D, Costa, cafe chino.
जब नाची साथ में लगा के गाना,
तुम्ही हो बंधू, तुम्ही सखा,
अब कहती है तुम दोस्त हो यार,
तुम्हें उस Angle से नहीं देखा..

कहती थी, मैं कभी किसी को Hii नहीं करती,
सिर्फ तुम्हें Call करती हूँ..
बाकि किसी को Reply नहीं करती..
तब Whatsapp के Status पे भी नाम मेरा लिखा,
अब कहती है तुम दिल के अच्छे हो यार,
पर तुम्हें उस Angle से नहीं देखा..

Shopping, Movie, Longdrive – Awww
तुम मेरी कितनी care करते हो..
मैं भी ना बिलकुल Dumb हूँ,
तुम सबकुछ Share करते हो..
मेरा बाबू, सोना, बच्चा ये सुनके,
जब हमने लांघ ली रेखा,
अब कहती है, “why are you so desperate?
कहा ना, तुम्हें उस Angle से नहीं देखा..

मेरे Credit card से वो खाना मुझे खिलाती थी,
पहनके western, मेरे I phone से फोटो Shoot करवाती थी..
जब देखकर तेरा swagger मैं crazzy हो बैठा,
अब कहती है तुम समझते क्यों नहीं हो यार,
तुम्हें कभी उस Angle से नहीं देखा..

मेरा हाथ पकड़कर हाथ में,
तुम भीगी थी बरसात में..
मेरी तारीफे हंसकर करती थी,
कि जादू है तुम्हारी बात में..
तेरा कहना आज भी चुभता है,
कि जीना तुमसे है सीखा..
अब कहती है, हम सिर्फ दोस्त रहेंगे ना यार,
कभी तुम्हें उस Angle से नहीं देखा..

 
 
ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी