Chal Aaj Main Tujhe Thukrati Hoon by Pooja Sonawane

the digital shayar
Main Kya Hoon Aaj Main Tujhe Batati Hoon…
Tu Kya Mujhe Thukrayega, Chal Aaj Main Tujhe Thukrati Hoon..

मैं क्या हूँ ये आज मैं तुझे बताती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

बहुत जी लिए ईमानदारी वाली ज़िन्दगी,
चल आज मैं तेरी तरह पत्थर दिल होकर देखती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

तेरे हरेक झूठ का नकाब आज मैं उतारती हूँ,
और सुन आज भरी महफ़िल में मैं तुझे बेवफा कहकर पुकारती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

बहुत सस्ती लगती है ना मेरी मोहब्बत तुझे,
तो चल आज मैं कुछ अमीरो वाला काम करती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

तेरे चेहरे की रौनक का एक हसीं कारण थी ना मैं कभी,
तो चल आज तेरे दिल की तबाही की वजह भी मैं बन जाती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

बहुत सवाल उठाये तूने मेरी मोहब्बत पे, पर मैंने कभी तुझे कुछ कहा नहीं..
शक के कटघरे में खड़ा किया तूने मेरी मोहब्बत को,
फिर भी मैंने तुझपे कोई सवाल उठाया नहीं..
पर सुन तेरी असली जगह कहाँ है ये मैं तुझे बताती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

जो मोहब्बत मुझसे सीखी तूने, वो किसी और पे कुर्बान करने चला था तू..
ठोकर खाकर उससे फिर मेरे पास आने चला था तू..
पर आज धोखे का असली मतलब मैं तुझे समझाती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

बड़े अरसो बाद मुलाकात होगी तुझसे ये वादा आज मैं तुझसे करती हूँ..
और इसी बहाने मेरी शादी का इनविटेशन कार्ड भी मैं तुझे खुद देने आती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

बहुत शौक है ना तुझे लोगो के दिलो से खेलने का,
चल आज मैं तेरे दिल के साथ खेलती हूँ..
तू क्या मुझे ठुकराएगा, चल आज मैं तुझे ठुकराती हूँ..

 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी