Hum Ladke Thode Pagal Hote Hai by Vishal Maru

the digital shayar
Thode Akdu Thode Ziddi Svabhav Ke Nariyal Se Hote Hai..
Hum Ladke Jo Hai Naa Sach Me Thode Pagal Hote Hai..

थोड़े अकड़ू, थोड़े जिद्दी स्वभाव के नारियल से होते है..
शुरुआत भले ही नफरत और झगडे से करें,
लेकिन बाद में आपके ही कायल होते है..
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

बकवास करे दुनिया भर की और महफ़िलो में बने शायर फिरते है..
पर जब सामना हो जाये आपसे तो जेबो में हाथ डालके अलफ़ाज़ टटोलते है..
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

कदर नहीं जब तक है हीरा हाथ में हमारे..
जब ले जाता है कोई जौहरी उसे तो महफ़िलो में बैठके जामो की माला पिरोते है..
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

कभी कभी हम समझ नहीं पाते, हम देख नहीं पाते..
मगर जब एक दिन भी आपसे बात नहीं होती तो मत पूछो कितने बेचैन होते है..
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

कह सकते है आप हमें दगाखोर या बेमुरव्वत..
लेकिन हम भी नहीं जानते कि कब ये दोस्ती प्यार में बदल बैठे है..
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

जन्नत की बात तो छोड़ो, दो गज भी ना मिलेगी जगह कल रात फरिश्ते आकर कह गए..
गुनाह बस मेरा इतना कि एक इंसान को खुदा हम तस्लीम कर बैठे है
हम लड़के जो है ना सच में थोड़े पागल होते है..

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी