Kinnar by Shivani Tyagi – A Transgender life Story

the digital shayar

Kinnar by Shivani Tyagi – A Transgender life Story

कोई शायर समझता है मुझे, कोई आवारा पागल समझता है।
मगर वो बिछड़ने का दर्द, या तो वो जमीं या वो बदल समझता है।
लाख समझा ले ये जमाना, पर वो दुरी का दर्द,
या तो तेरा दिल समझता है, या मेरा दिल समझता है।

छोटा सा बच्चा जन्मा माँ के आँचल में,
माँ की खवाहिशे थी बहुत बड़ी बड़ी और पाँव थे बदल में।
माँ खुश थी और परेशान भी,
क्योंकि माहौल कुछ उदास था।
शायद मेरे सच का अब सबको अहसास था।
किन्नर का नाम दे दिया तो माँ का दिल भी रोता है।
मैं सवाल पूछती हूँ तो माँ कहती है –
ऐसा ही होता है, ऐसा ही होता है।

खुदा ने आदमी जैसी वो नायब चीज बनाई थी।
और उससे ज्यादा खूबसूरत वो औरत नजर आई थी।
फिर एक और चीज बनाई जो खूबसूरत थी और नायाब भी।
किन्नर, पर ना आदमी को ना औरत को उसके अस्तित्व की कहानी नजर आई थी।
क्या हुआ अगर मेरा अस्तित्व अगर भिन्न है।
अर्धनारेश्वर हूँ मैं शिव का और यही मेरा चिन्ह है।
क्यों, कैसे हूँ मैं भिन्न, चीख चीखकर आंसू पूछता है।
मैं सवाल पूछती हूँ, मैं सवाल पूछती हूँ,
तो ये समाज कहता है – ऐसा ही होता है, ऐसा ही होता है।

मैं समाज भर से लड़ रही, खुद के सम्मान के लिए,
मैं लड़ रही थी अपने अस्तित्व के लिए।
और इंसान हूँ फिर भी लड़ रही हूँ,
अपनी पहचान के लिए।
और तुमने जरा भी वक़्त जाया ना किया ना,
मेरे अपमान के लिए।

बेनाम नहीं हूँ,
फिर भी किन्नरों जैसे ना जाने कैसे कैसे नामो से मुझे पुकारा जाता है।
बेघर नहीं हूँ, मेरा भी परिवार है,
जिसे समुदाय के नाम से जाना जाता है।
क्या खूब कहा है कि ऐ इंसान इतना जुल्म ना कर।
पूछ उस मिटटी से कि वो सिकंदर कहाँ है?
ख़ाक होगा एक दिन तू भी और मैं भी,
फिर बताना, कौनसा तेरा और कौनसा मेरा जहाँ है।
हर रोज, हर दिन ये ह्रदय मेरा तानो का बोझ ढोता है।
मैं पूछती हूँ तो फिर ये ह्रदय कहता है,
ऐसा ही होता है, ऐसा ही होता है।

हाँ माना मैंने, मैं ना किसी की जरुरत हूँ।
बलाए लेती हूँ, जिस्म से ना सही पर दिल से तो बहुत खूबसूरत हूँ।
तालियों से ही तो चलती थी, तुमने इसी का मजाक बना दिया।
फिर कामयाबी का मैंने ऐसा जादू चलाया,
कि मैंने उन्हें तालियां बजाना सीखा दिया।
अब पूछते है कि कोई इतनी परेशानी के बाद कैसे सफलता के बीज बो सकता है?
अब मैं कहती हूँ,
ऐसा ही होता था, ऐसा ही होता है, ऐसा ही होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी