Pyar Zindagi Mein Bas Ek Baar Ho Aisa Koi Zaroori Nahi Hai by Amit Auumkaar

the digital shayar
Pyaar Naa Bhi Mile To bhi Zindagi Adhuri Nahi Hai..
Pyar Zindagi Mein Bas Ek Baar Ho Aisa Koi Zaroori Nahi Hai…

तो ये कविता उनके लिए है जिनको प्यार जिंदगी में एक से ज्यादा बार हुआ है..
कि प्यार ना भी मिले तो भी जिंदगी अधूरी नहीं है,
प्यार ना भी मिले तो भी जिंदगी अधूरी नहीं है,
पर प्यार जिंदगी में बस एक बार हो, ऐसा कोई जरुरी नहीं है..

कि आपका जिंदगी में कोई हमसफ़र होना ही चाहिए,
ऐसी कोई मजबूरी नहीं है..
पर प्यार जिंदगी में बस एक बार हो, ऐसा कोई जरुरी नहीं है..

कि कभी किसी की आँखों पर मर मिटता है ये दिल,
तो कभी किसी की बातों में खो जाता है,
ये जिंदगी है मेरे दोस्त, यहाँ प्यार एक से ज्यादा बार भी हो जाता है..
हाँ आपको आपका किया प्यार मिल ही जाये, ऐसी कोई दस्तूरी नहीं है..
पर प्यार जिंदगी में बस एक बार हो, ऐसा कोई जरुरी नहीं है..

कि उम्र बीत जाती है उम्र भर का साथ पाने की तलाश में,
लोग मिलते है कई लोगों से, सच्चे प्यार की आस में,
पर पहली ही बार में मिल जाये हर किसी को जिंदगी भर का हमसफ़र,
किस्मत की शायद ये मंजूरी नहीं है..
बस इसीलिए कहता हूँ मैं,
पर प्यार जिंदगी में बस एक बार हो, ऐसा कोई जरुरी नहीं है..

तो जबतक आपको आपका सही हमसफ़र नहीं मिल जाता तब तक दिल खोल कर प्यार कीजिये,बस किसी का दिल मत दुखाइयेगा

~Amit Auumkaar

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ना ना बेटा, तुमसे ना हो पायेगा ये कॉपी